खतरनाक इरादों से घुस रहे पांच कुख्यात अपराधी धराये

धनबाद : खतरनाक इरादों के साथ धनबाद में घुस रहे पांच कुख्यात अपराधी शुक्रवार को टुंडी में गिरफ्तार कर लिये गये। सभी अंतर प्रांतीय गिरोह के सदस्य हैं। उनके पास से भारी मात्रा में अवैध हथियार मिले हैं ।धनबाद पुलिस की स्पेशल टीम ने गुप्त सूचना के आधार पर यह कार्रवाई की। प्रारंभिक पूछताछ में पता चला है कि अपराधियों की योजना ओड़िशा के जामदा में किसी बड़े कारोबारी के घर डकैती की थी।वहां के किसी राजेश नामक व्यक्ति का पता-ठिकाना भी मिला है। पुलिस अन्य योजनाओं का भी पता लगा रही है।

कैसे हुई गिरफ्तारी-

अपराधी शुक्रवार की दोपहर को पांडव (गिरिडीह-बोकारो) व श्रीराम बस (गिरिडीह-धनबाद) से आ रहे थे।गुप्त सूचना पर पुलिस की स्पेशल टीम ने बस को थाना परिसर में लाकर जांच शुरू की। कई भागने लगे। पांच लोग गिरफ्तार किये गये। खबर मिलते ही एसपी रवि कांत धान टुंडी पहुंचे और पूछताछ की, एसपी के साथ डीएसपी रामानंदन शर्मा, इंस्पेक्टर माधव राम भार्गव समेत अन्य पुलिस अधिकारी भी थे। एसपी ने बताया कि पकड़े गये अपराधी जामताड़ा के कुख्यात मुस्तकीम अंसारी गिरोह के हैं। गिरफ्तार अपराधियों की निशानदेही पर पुलिस की एक टीम कोलकाता भेजी गयी है।अपराधियों के नाम व ठिकाने का सत्यापन किया जा रहा है। स्पेशल टीम में तोपचांची थानेदार शंकर कामती, तेतुलमारी थानेदार राम कुमार वर्मा व केंदुआडीह थानेदार अहमद अली, एसआइ आरएन सिंह व 19 पुलिस कांस्टेबल शामिल थे।

मोबाइल का कमाल : इस गिरफ्तारी में मोबाइल फ़ोन की बहुत बड़ी भूमिका है। पुलिस को फ़ारुख का मोबाइल नंबर मिला था। मोबाइल नंबर को सर्विलांस में डालकर पुलिस उसकी एक-एक गतिविधि को वाच कर रही थी। उसकी हर बातचीत को सुन रही थी। बस, हथियार आदि की जानकारी उसी से मिली और फ़िर पकड़ने में कोई दिक्कत नहीं हुई। 35 लाख फ़िरौती वसूली थी फ़ारूख अंसारी टुंडी के पोखरिया एसबीआइ बैंक डकैती का वांछित है।फ़ारुख ने बताया कि गैंग ने पिछले साल दुर्गापुर के मार्बल व्यवसायी सपन तिवारी का अपहरण किया था। 35 लाख फ़िरौती लेकर उसे छोड़ा था। दुर्गापुर पुलिस को गिरफ्तारी की सूचना दे दी गयी है। कोलकाता में मुन्ना गिरफ्तार स्पेशल पुलिस टीम ने फ़ारुख की निशानदेही पर कोलकाता में देर रात मुन्ना सिंह को गिरफ्तार कर लिया है।मुन्ना पोखरिया बैंक डकैती व निरसा के एक मर्डर केस का वांछित है। वह मूलत: यूपी के वाराणसी का रहने वाला है। तत्काल 10000 पुरस्कार एसपी ने छापामारी में शामिल स्पेशल टीम को 10000 रुपये नगद पुरस्कार दिया। दारोगा व दो कांस्टेबल को पांच-पांच सौ व शेष 17 कांस्टेबल को तीन-तीन सौ रुपये का पुरस्कार दिया गया।

ये हथियार मिले-

पांच सिंगल शॉट पिस्टल

एक नाइन एमएम पिस्टल

33 गोली, दो मैगजीन

500 ग्राम एक्सप्लोसिव

आठ मोबाइल

जो पकड़े गये -

फ़ारुख अंसारी (श्यामपुर, जामताड़ा) खालिद अंसारी (कुंडलवादह, ताराटांड़, गिरिडीह) सहुद अंसारी(राज भिट्ठा, नारायणपुर, जामताड़ा) सईद अंसारी (राज भिट्ठा, नारायणपुर, जामताड़ा) बुद्धु अंसारी (धर्मपुर, नारायणपुर, जामताड़ा)

दो पर शक : शक के आधार पर पुलिस ने इस्माइल अंसारी व मुन्ना अंसारी को भी हिरासत में लिया है।

Courtesy: prabhatkhabar.com 03.03.2012


 Back to Top

Copyright © 2011 Jharkhand Police. All rights reserved.