खूंटी मुख्यालय में डीजीपी ने की बैठक

Recent Photograph of Police Events

रांची : रविवार को डीजीपी डीके पांडेय खूंटी पहुंचे। सर्किट हाउस में पुलिस व सीआरपीएफ के अधिकारियों के साथ बैठक की। खूंटी के कोचांग में पांच युवतियों के साथ हुए गैंग रेप के आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए  चार जिलों के डीएसपी को खूंटी में तैनात किया गया।

ये चारों डीएसपी पूर्व में भी खूंटी में पदस्थापित रहे हैं। इनमें पलामू के छत्तरपुर के एसडीपीओ शंभू सिंह, धनबाद के लॉ एंड आर्डर डीएसपी मुकेश कुमार, बसिया के एसडीपीओ वचनदेव कुजूर और बगोदर के एसडीपीओ दीपक शर्मा शामिल हैं। चारों डीएसपी बैठक में भी मौजूद थे। डीएसपी रैंक के अफसरों के नेतृत्व में छह विशेष छापेमारी दल का गठन किया गया है। जब यह दल छापेमारी करने निकलेगी, तो उन्हें सीआरपीएफ की ओर से अंडर कवर प्रोटेक्शन दिया जायेगा।

बैठक में डीजीपी ने सभी आरोपियों को शीघ्र गिरफ्तार करने का निर्देश दिया, उन्होंने कहा जरूरत पड़ी तो और पुलिस अधिकारी दिये जायेंगे। घटना में पीएलएफआइ उग्रवादियों के शामिल होने की बात पर उनके सफाये के लिए शीघ्र ही बड़ा अभियान छेड़ने की रणनीति तय करने को कहा। बैठक में उन्होंने पीड़िताओं के पुनर्वास आदि पर भी चर्चा की।

डीजीपी ने कहा सरकार महिलाओं की सुरक्षा के लिए पूरी तरह कटिबद्ध है। मुख्यमंत्री की विशेष पहल पर झारखंड में 44 महिला थानों के गठन की स्वीकृति प्राप्त हुई है। प्रत्येक अनुमंडल में एक महिला थाना होगा, जिसमें थाना प्रभारी से लेकर लेखापाल तक सभी महिलाएं होंगी। उन्होंने कहा कोचांग में जनसहयोग मिलेगा, तो वहां पुलिस कैंप स्थापित किया जायेगा।

बैठक में एडीजी अभियान आरके मल्लिक, विशेष शाखा के एडीजी अनुराग गुप्ता, सीआरपीएफ आइजी संजय आनंद लाठकर, रांची रेंज डीआइजी अमोल वीणुकांत होमकर, खूंटी डीसी सूरज कुमार, एसपी अश्विनी कुमार सिन्हा व अन्य उपस्थित थे।

Courtesy: https://www.prabhatkhabar.com/news/crime/jharkhand-khunti-gang-rape/1174424.html


 Back to Top

Copyright © 2011 Jharkhand Police. All rights reserved.