बंद के मद्देनजर प्रशासन की चाक चौबंद व्यवस्था

Recent Photograph of Police Events

बंद के मद्देनजर प्रशासन की चाक चौबंद व्यवस्था रहेगी, लोग डरे नहीं- एसकेजी रहाटे

रांची: डीजीपी डी.के. पांडेय ने कहा कि विरोध का प्रदर्शन शांतिपूर्ण तरीके से करना चाहिए, हथियार के साथ यदि प्रदर्शन किया जाता है तो इसके विरुद्ध कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जाएगी। गृह, कारा एवं आपदा प्रबंधन विभाग के प्रधान सचिव एसकेजी रहाटे ने कहा कि बंद से लोग डरे नहीं अपना सामान्य दैनिक जीवन का कार्य करें। प्रशासन की चाक चौबंद व्यवस्था रहेगी। गृह विभाग के प्रधान सचिव एसकेजी रहाटे तथा पुलिस महानिदेशक डीके पांडेय ने बुधवार को सूचना एवं जनसंपर्क विभाग के सभागार में कल 5 जुलाई को होने वाले राज्य स्तरीय बंद को देखते हुए पुलिस की तैयारियों के संबंध में संयुक्त रूप से प्रेस को संबोधित कर रहे थे।

एसकेजी रहाटे ने कहा यदि अमनपसंद लोगों को उनके दैनिक जीवन कार्यों में उनके कार्य व्यापार में किसी प्रकार की बाधा पहुंचाने की कोशिश बंद समर्थकों द्वारा की जाती है, विध्वंसक कार्रवाई की जाती है तो उनके विरुद्ध कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जाएगी। चाहे कोई भी हो उसे बख्शा नहीं जाएगा। बंद में यदि किसी प्रकार की हिंसा अथवा सरकारी संपत्ति की क्षति होती है तो उसकी क्षति-पूर्ति बंद का आह्वान करने वाले नेताओं से वसूला जाएगा।

गृह विभाग के प्रधान सचिव एसकेजी रहाटे ने बताया कि 5 जुलाई 2018 को राजनीतिक दलों द्वारा झारखंड बंद का आह्वान किए जाने के मद्देनजर झारखंड सरकार ने उपद्रवियों से निपटने के लिए व्यापक इंतजाम किए हैं। बंदी से निपटने के लिए कुल 5000 से अधिक की संख्या में पुलिस बल एवं पदाधिकारियों को लगाया गया है। इसके अतिरिक्त रैफ की दो कंपनियां, रैप की छः कंपनियां, 3100 गृह रक्षा वाहिनी के साथ-साथ टीयर गैस और राइट कंट्रोल यूनिट की प्रतिनियुक्ति भी की गई है।

इस अवसर पर डीजीपी डीके पांडेय ने कहा कि बंद से निपटने के लिए पुलिस विभाग पूरी तरह मुस्तैद है। उन्होंने कहा कि हमारे द्वारा सभी संवेदनशील स्थानों पर विशेष निगरानी रखते हुए आवश्यकतानुसार बलों की प्रतिनियुक्ति किया गया है। उन सभी संवेदनशील स्थानों पर सीसीटीवी एवं वीडियोग्राफी की व्यवस्था के साथ-साथ वॉचरों को भी प्रतिनियुक्त किया जा रहा है।

उन्होंने बताया कि बंद समर्थक युवाओं के मोटरसाइकिल दस्ता पर विशेष निगरानी रखी जाने तथा उन्हें नियंत्रित करने के लिए सभी चिन्हित संवेदनशील स्थानों पर पुलिस की मोटरसाइकिल दस्ते की क्यूआरटी रखी जाएगी। उन्होंने बताया कि सभी पीसीआर वाहन, थानों के मोबाइल वाहन, क्यूआरटी जिला बल को माइक सेट, वीडियो कैमरा, टीयर गैस गन एवं राईट कंट्रोल से संबंधित सभी साजो- समान से लैस रहने का आदेश दिया गया है। इस अवसर पर अपर पुलिस महानिदेशक आरके मालिक, आईजी आशीष बत्रा एवं सूचना एवं जनसंपर्क विभाग के निदेशक राम लखन प्रसाद गुप्ता भी उपस्थित थे।

Courtesy: https://www.bhaskar.com/jharkhand/ranchi/news/c-181-LCL-skg-rahte-pc-news-update-jharkhand-NOR.html


 Back to Top

Copyright © 2011 Jharkhand Police. All rights reserved.